राजस्थान जिला दर्शन | Banswara District Darshan | बांसवाड़ा जिला दर्शन | राजस्थान जिला दर्शन उदयपुर | राजस्थान जिला दर्शन महत्वपूर्ण प्रश्न | बांसवाड़ा जिले के मेले | बांसवाड़ा जिले की सम्पूर्ण जानकारी | राजस्थान जिला दर्शन सभी प्रतियोगी परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण | Baswada District Darshan | Banswara District GK of Rajasthan | Banswara Gk in Hindi | Jaipur State GK |

बांसवाड़ा जिला दर्शन (Banswara District Darshan) | Banswara District GK in Hindi

5/5 - (1 vote)

राजस्थान जिला दर्शन | Banswara District Darshan | बांसवाड़ा जिला दर्शन | राजस्थान जिला दर्शन उदयपुर | राजस्थान जिला दर्शन महत्वपूर्ण प्रश्न | बांसवाड़ा जिले के मेले | बांसवाड़ा जिले की सम्पूर्ण जानकारी | राजस्थान जिला दर्शन सभी प्रतियोगी परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण | Baswada District Darshan | Banswara District GK of Rajasthan | Banswara Gk in Hindi | Jaipur State GK |

बांसवाड़ा जिला दर्शन (Banswara District Darshan):- दोस्तों, राजस्थान सामान्य ज्ञान के अंतर्गत, अगर आप स्टडी करते हो तो आपको राजस्थान जिला दर्शन के बारे में जानकारी पता होनी अनिवार्य है. यहाँ पर हम राजस्थान जिला दर्शन (Banswara District Darshan) से सम्बन्धित बांसवाड़ा जिला दर्शन से जुड़े सभी छोटे बड़े प्रश्नों के बारे में तथा तथ्यों के बारे में अवगत करा रहे है.

अगर आप राजस्थान स्तर की किसी भी सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हो तो ऐसे में आपको राजस्थान जिला दर्शन के बारे में भी जानकारी होनी अनिवार्य है. आप चाहे पटवारी भर्ती, राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती, कृषि पर्यवेक्षक भर्ती, फायरमैन पद पर भर्ती, ग्राम विकास अधिकारी भर्ती, राजस्थान रीट भर्ती, इत्यादि किसी भी पद के लिए तैयारी करते हो राजस्थान जिला दर्शन के बारे में आपके सामने एक या दो नंबर का प्रश्न जरुर आएगा. तो आइये जानते है बांसवाड़ा जिला दर्शन (Banswara District Darshan) से जुड़े सभी छोटे बड़े प्रश्न और तथ्यों के बारे में:-

Read More:-

राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन (Banswara District Darshan)

(बांसवाड़ा का अक्षांशीय और देशांतरीय विस्तार)

  • अक्षांश – 23.11 से 25.56 उत्तरी अक्षांश के मध्य
  • देशांतर – 74.4 से 74.47 पूर्वी देशांतर के मध्य
  • बांसवाड़ा का क्षेत्रफल – 5037 वर्ग किलोमीटर
  • बांसवाड़ा का शुभंकर – जलसीपी
  • बांसवाड़ा की स्थापना – बांसवाड़ा के शासक जगमाल ने बासिया नामक भील को मारकर बसाया

बांसवाड़ा के उपनाम – राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • 100 द्वीपों का शहर
  • आदिवासियों का देश
  • राजस्थान का चेरापूंजी

बांसवाड़ा के प्रमुख मेले – राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • काला जी का मेला – गोपीनाथ का गड्डा
  • घोटिया अम्बा मेला – बारीगामा गांव
  • घोटिया अम्बा मेला कब लगता है – चैत्र अमावस्या को
  • मानगढ़ धाम का मेला – मानगढ़ पहाड़ी
  • मानगढ़ धाम मेला कब लगता है – मार्गशीर्ष पूर्णिमा को
  • गोपेश्वर का मेला – घाटोल गांव में
  • गोपेश्वर मेला कब लगता है – कार्तिक पूर्णिमा को

  • राजस्थान जिला दर्शन PDF

राजस्थान जिला दर्शन पीडीएफ के लिए यहाँ क्लिक करे

बांसवाड़ा के प्रमुख मंदिर और दर्शनीय स्थल – राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • घोटिया अम्बा का मंदिर – बारीगामा गांव
  • धूणी का रणछोड़ राय मंदिर – गनोड़ा के पास
  • त्रिपुरा सुंदरी का मंदिर – तलवाड़ , बांसवाड़ा
  • कालींजरा के मंदिर
  • छिच का ब्रह्मा मंदिर
  • नंदिनी माता का तीर्थ स्थल
  • अब्दुला पीर की दरगाह
  • अर्थूना – परमारो की प्राचीन राजधानी , यहाँ हिन्दू व जैन मंदिर है

बांसवाड़ा के प्रमुख जलाशय – राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • माही बजाज सागर बांध – बोरखेड़ा , बांसवाड़ा
  • कागदी पिकप बांध
  • डाइलाव झील
  • आंनद सागर झील

बांसवाड़ा से सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण प्रश्न – राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • बांसवाड़ा में भोगेश्वर शिवालय विश्व का एकमात्र शिवालय है जहा आधे शिवलिंग की पूजा की जाती है
  • माही नदी बांसवाड़ा में कहा से प्रवेश करती है – ख़ादू गांव से
  • आनंदपुर भूकिया सोने के लिए प्रसिद्ध खान है बांसवाड़ा की
  • बांसवाड़ा और डुंगरपुर के बिच के स्थान को देवल कहा जाता है
  • बांसवाड़ा जिला राजस्थान का सबसे आर्द्र जिला माना जाता है
  • बांसवाड़ा को सांगवान का उद्यान भी कहा जाता है
  • स्कन्द पुराण में बांसवाड़ा के लिए ‘ कुमारिका खंड ‘ शब्द प्रयोग किया गया है
  • कल्पवृक्ष – बाई तालाब के किनारे है
  • बांसवाड़ा जोला राजस्थान के किस संघ में शामिल हुआ – पूर्वी राजस्थान संघ में 25 मार्च 1948
  • बांसवाड़ा जिले की यशोदा देवी किस लिए प्रसिद्ध है – प्रथम महिला विधायक
  • 1518 ईस्वी में किसके द्वारा बांसवाड़ा नगर की नीव रखी गयी – जगमाल सिंह द्वारा
  • बांसवाड़ा जिला किसके उत्पादन में प्रथम स्थान पर है – मैगनीज व सोना
  • बांसवाड़ा जिले में से कोनसी रेखा गुजरती है – कर्क रेखा
  • बांसवाड़ा के लिम्बाराम किस खेल से सम्बंधित है – तीरंदाजी
  • बांसवाड़ा जिले में त्रिपुरा सुंदरी का मंदिर किस स्थान पर है – तलवाड़ , बांसवाड़ा
  • कर्क रेखा बांसवाड़ा जिले के किस स्थान से गुजरती है – कुशलगढ़
  • राज्य में सर्वाधिक हिन्दू जनसंख्या तथा न्यूनतम मुस्लिम जनसंख्या वाला जिला कोनसा है – बांसवाड़ा
  • बांसवाड़ा तथा झालावाड़ जिले की जलवायु किस श्रेणी में आती है – अति आर्द्र जलवायु
  • बांसवाड़ा तथा डूंगरपुर के बिच के क्षेत्र को किस नाम से जाना जाता है – बागड़ प्रदेश
  • बागड़ का गाँधी किसे कहा जाता है – भोगीलाल पंड्या
  • भारत में गलगंड नामक रोग से सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र है – बांसवाड़ा व डूंगरपुर

राजस्थान सामान्य ज्ञान – बांसवाड़ा जिला दर्शन

  • बांसवाड़ा जिले की प्रमुख नदीया कोनसी है – माही नदी , अनास, चैनी नदी
  • बागड़ प्रदेश की गंगा किस नदी को कहा जाता है – माही नदी
  • माही नदी के किनारे कृष्ण लीलाओ का धाम कहलाने वाला तीर्थ किस अन्य नाम से जाना जाता है – फसलों के रक्षक देव
  • राजस्थान के किन दो स्थानों पर यह माना जाता है कि कल्पवृक्ष विध्यमान है – 1- बाई ताल बांसवाड़ा 2- मांगलियावास , अजमेर
  • तेन्दु का पत्ता जिसकी बीड़ी उस वृक्ष को किस नाम से जाना जाता है – टिमरू
  • बांसवाड़ा के किस स्थान पर 12 वी शताब्दी में निर्मित ब्रह्मा जी मंदिर कहा है – छिछ , बांसवाड़ा
  • बांसवाड़ा में तुरताई माता का मंदिर किस अन्य नाम से जाना है – त्रिपुरा सुंदरी का मंदिर
  • राजस्थान के पूर्व मुख़्यमंत्री हरिदेव जोशी का जन्म स्थान है – ख़ादू गांव , बांसवाड़ा
  • बांसवाड़ा जिले का सबसे बड़ा मेला कोनसा है – घोटिया अम्बा का मेला
  • बांसवाड़ा के ऐसे तीरंदाज़ जिन्हे अर्जुन पुरस्कार से 1991 में सम्मानित किया गया – शयमलाल
  • एकमात्र ऐसे विधायक जो प्रथम चुनाव से लेकर 10 वी विधानसभा तक निरंतर विजय रहे – श्री हरिदेव जोशी
  • बांसवाड़ा जिले में माहि नदी पर कोनसा बांध बना है – बजाज सागर बांध
  • बांसवाड़ा जिले में किस जनजाति की बहुलता है – भील
  • बांसवाड़ा जिले का राज्य में सबसे दक्षिणतम स्थान किनसे है – कुशलगढ़
  • बांसवाड़ा प्रजामण्डल की स्थापना कब की गयी – 1946 में भूपेन्द्रनाथ त्रिवेदी
  • किस मंदिर में खंडित मूर्तियों का संग्राहलय है – त्रिपुरा सुंदरी मंदिर
  • बांसवाड़ा में पालीनोच व गैर नृत्य का आयोजन कब किया जाता है – शादियों व त्योहारों पर

इनको भी पढों:-

Leave a Comment

Your email address will not be published.