राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना 2021 आवेदन पत्र PDF डाउनलोड | Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana Apply

5/5 - (1 vote)

राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना 2021:- दोस्तों, आज के समय में बाकि राज्य सरकारों की तरह राजस्थान सरकार अपने नागरिकों को बेहतर भविष्य देने और उनकों किसी दुविधा से लड़ने के लिए कई तरह की योजनाएं लाती रहती है. ऐसी ही एक Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana Apply (राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना 2021 आवेदन पत्र) योजना है.

इस योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार भवन श्रमिक कल्याण विभाग हिताधिकारी की आकस्मिक मृत्यु या सामान्य मृत्यु या दुर्घटना में मृत्यु या घायल होने की स्थिति में मृत्यु हो जाने पर 5 लाख रूपये तक की वित्तीय धनराशी सहायता के तौर पर पीड़ित के परिवार को मुआवजा के रूप में देती है.

Read More:- राजस्थान जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना क्या है?

राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना राजस्थान सरकार द्वारा संचालित एक सरकारी योजना है. Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana के लिए राज्य सरकार ने तीन अलग अलग योजनाएं चलाई हुई है जिनके नाम इस प्रकार है:- समूह बीमा (जनश्री बीमा) योजना, दुर्घटना में तत्काल सहायता योजना और मृत्यु की दशा में अनुग्रह भुगतान योजना.

राजस्थान सरकार द्वारा संचालित इन योजनाओं का मुख्य उद्देश्य श्रमिकों के परिवार को उनके साथ कोई भी हादसा (एक्सीडेंट) हो जाने के बाद वित्तीय सहायता प्रदान करना है. ताकि श्रमिक के परिवार को उनके घायल हो जाने की स्थिति में या दुर्घटना की स्थिति में पैसों की तंगी के कारण इधर उधर भटकना ना पड़े.

श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना राजस्थान – जरूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • भामशाह परिवार कार्ड या भामशाह नामांकन
  • लाभार्थी पंजीयन परिचय पत्र या कार्ड
  • दुर्घटना में घायल होने पर अस्पताल से Discharge Ticket
  • दुर्घटना में मृत्यु होने पर मुर्दाघर रिपोर्ट अथवा FIR की कॉपी
  • मृत्यु होने पर पंजीकृत प्राधिकारी द्वारा जारी मृत्यु प्रमाण-पत्र
  • श्रमिक जहां पर काम करता था वहां के नियोजक (Ampire) का प्रमाण-पत्र

राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना आवेदन प्रक्रिया

निर्माण श्रमिक की सामान्य स्थिति में मृत्यु होने की दशा में या दुर्घटना की स्थिति में मृत्यु होने की दशा में या दुर्घटना में घायल होने की दशा में मुआवजा दिए जाने की स्थिति में भवन और अन्य संनिर्माण कर्मकार (नियोजन तथा सेवा की शर्तों का विनियमन) अधिनियम 1996 की धारा 22 (1) (क) सपठित राजस्थान नियम 2009 के नियम 57 व 58 के अंतर्गत यह योजना लागू होगी.

यह योजना मुख्यमंत्री का बहुत बड़ा कदम है. बता दे, इस योजना का नाम परिचय पत्रधारी निर्माण श्रमिकों या आश्रितों को नियमित रूप से अंशदान जमा करा पाने की स्थिति में प्राप्त हो सकेगा. Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana का लाभ पाने के लिए राज्य सरकार ने कुछ पात्रता और शर्तें रखी है, जिन शर्तों को पूरा करके श्रमिक वित्तीय सहायता राशी को प्राप्त कर सकते है.

नोट:– राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना 2021 आवेदन पत्र भरने के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://labour.rajasthan.gov.in/ है. इस वेबसाइट का इस्तेमाल करके निर्माण श्रमिक सुलभ्य आवास योजना PDF Download कर सकते है. इस योजना से जुडी सम्पूर्ण जानकारी को प्राप्त करने एक लिए नीचे लिखे पूरे लेख को जरुर पढ़े.

Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana Application Form PDF Download

Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana (राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना) का लाभ उठाने के श्रमिकों को आवेदन कैसे करना है, इससे जुडी जानकारी हमने यहाँ शेयर की हुई है:-

  • सर्वप्रथम आपको Building & Other Construction Workers Welfare Board, Rajasthan की ऑफिसियल वेबसाइट https://labour.rajasthan.gov.in/ पर विजिट करना होगा.
  • फिर होम पेज पर Download के तब में आपको Formats of Schemes को चुनकर उस पर क्लिक करना है.
राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना
  • उस पेज पर जाने के लिए आप सीधा https://labour.rajasthan.gov.in/Documents/FormatsofSchemes.pdf लिंक पर क्लिक करे.
  • पीडीऍफ़ के Download होने के बाद राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना एप्लिकेशन फॉर्म पीडीएफ़ का इंटरफ़ेस कुछ इस तरह से दिखाई देगा.
  • आप डाउनलोड एप्लीकेशन फॉर्म में सारी जानकारी ध्यानपूर्वक भरें.
  • फिर भरे हुए फॉर्म को बताये गए सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ अटेच करके स्थानीय श्रम कार्यालय या मंडल सचिव द्वारा अधिकृत अधिकारी के कार्यालय में जमा करवा दे.
  • लाभार्थी का फॉर्म अप्रूवल होने के बाद उसके बैंक अकाउंट में NEFT/RTGS के प्रोत्साहन राशि जमा करा दी जाएगी.

हिताधिकारी की सामान्य अथवा दुर्घटना में मृत्यु या घायल होने के दशा में सहायता योजना पात्रता

  • योजना के लिए 18 से 60 वर्ष के निर्माण श्रमिक पात्र होंगे.
  • जो निर्माण श्रमिक अपना अंशदान नियमित रूप से जमा करवा रहे है और उनका धारा 12 के अंतर्गत मंडल में पंजीयन हो चुका है. उनका हिताधिकारी की सामान्य अथवा दुर्घटना की स्थिति में मृत्यु या घायल होने के दशा में, नियमित अंशदान जमा कराने की समय सीमा के 3 माह अन्तराल में सहायता राशि सौंप दी जाएगी. (अधिसूचना दिनांक 21.09.2015 द्वारा संशोधित)

उत्तराधिकारी

  • हिताधिकारी निर्माण श्रमिक द्वारा अधिनियम के अन्तर्गत उत्तराधिकारी के तौर पर राजस्थान नियमों के अनुसार निर्देशित किया गया नामिती या फिर नामिती नहीं होने की स्थिति में उसका पति / पत्नी तथा इनके नहीं होने पर अवयस्क पुत्र या अविवाहित पुत्रियाँ.
  • अगर कोई श्रमिक अविवाहित है और जिनके पति / पत्नी या पुत्री / पुत्र नहीं हो तो ऐसी स्थिति में उत्तराधिकारी उसके माता-पिता को समझा जायेगा.

राजस्थान श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना के अंतर्गत सहायता राशि

Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana के अंतर्गत, निर्माण श्रमिक की सामान्य मृत्यु अथवा दुर्घटना में मृत्यु या घायल होने की दशा में मृत्यु होने पर देय सहायता राशि निम्नानुसार अर्जित की जाएगी:-

  • किसी दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में 5,00,000 लाख रूपये दिए जायेंगे.
  • किसी दुर्घटना में स्थायी पूर्ण अपंगता होने की स्थिति में 3,00,000 लाख रूपये दिए जायेंगे. (स्थायी पूर्ण अपंगता में दुर्घटना के दौरान दो आँखें या दोनों हाथ या दोनों पांव से अक्षम होना)
  • किसी दुर्घटना में आंशिक स्थायी अपंगता होने की स्थिति में 1,00,000 लाख रूपये तक की देय राशि अनुमानित होगी. (स्थायी आंशिक अपंगता में दुर्घटना के दौरान एक हाथ या एक पांव का अक्षम होना)
  • किसी दुर्घटना में गंभीर रुप से घायल होने पर 20,000 हजार रूपये तक की सहायता राशि अनुमानित होगी. (दुर्घटना में गंभीर रुप से घायल होना कम से कम हिताधिकारी 5 दिन तक अस्पताल के रोगी घर में एडमिट रहे, अगर श्रमिक गंभीर रूप से घायल है तो इसका निर्धारण मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी प्रमाण पत्र के आधार पर किया जायेगा)
  • किसी दुर्घटना में साधारण रूप से घायल होने पर 5000 हजार रूपये तक की सहायता राशि अनुमानित होगी. (श्रमिक 5 दिन से कम अवधि में ठीक होने पर)
  • अगर किसी निर्माण श्रमिक की सामान्य स्थिति में मृत्यु हो जाने पर 75,000 हजार रूपये की सहायता राशि प्रदान की जाएगी.

श्रमिक दुर्घटना सहायता योजना पंजीकरण की समय सीमा

  • श्रमिक के घायल होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज होने से अधिकतम 6 माह के अन्तराल में.
  • श्रमिक की मृत्यु हो जाने पर मृत्यु की तारीख से अधिकतम 1 वर्ष.

Download Notification PDF – Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana PDF Download

Helpline

Rajasthan Shramik Durghatna Sahayata Yojana से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए श्रम विभाग राजस्थान की अधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं या Toll Free Number पर भी कॉल कर सकते हैं:-

  • टोल फ्री नंबर: 1800-1800-999
  • ई-मेल (E-mail id): bocw.raj@gmail.com
  • श्रमायुक्त: lab–comm–rj@nic.in
  • फैक्स (fax): +91- 141- 2450782

Newemitra.com के माध्यम से हम केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही सरकारी योजनाओं के साथ, राजस्थान के निवासियों के लिए ईमित्र सम्बन्धी समस्याओं से निपटने के लिए EMITRA SOLUTION की जानकारी भी देते है।

Leave a Comment